✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

loading...

जालंधर की सेक्सी भाभी खूब चोदा

0
loading...

प्रेषक : अभी …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अभी है और में चोदन डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ। मुझे फेसबुक पर पूजा मिली और मैंने पूजा के साथ चैट किया तो तब उसने मुझे बताया कि वो एक शादीशुदा औरत है और 25 साल की है और अभी तक उसके कोई बच्चा नहीं है, उसकी शादी को 3 साल हुए है, वो जालंधर में रहती है और वो एक बंगले में रहती है और उस बंगले में सिर्फ 3 लोग रहते है। एक वो उसका पति और उसकी एक छोटी बहन, जिसकी उम्र उसने 18 साल बताई थी और उसका नाम सीमा बताया, वो अभी 12वीं क्लास में है और सारा दिन स्कूल और कोचिंग में ही रहती है और पति बिजनेस में ही सारा दिन बाहर रहते है और रात को करीब 12 बजे तक आते है। उनका टेक्सटाइल का बिजनस था, इसलिए वो सारा दिन बोर होती रही है और उसका मैन प्रोब्लम सेक्स का था, क्योंकि उसने शादी के बाद बहुत कम सेक्स इन्जॉय किया था और वो एक अनसॅटिस्फाइड औरत है।

फिर तब मैंने पूछा कि में आपकी क्या मदद कर सकता हूँ? तो तब उसने मुझसे कहा कि तुम मेरा दिल बहला सकते हो। तब में तुरंत तैयार हो गया और फिर मैंने उससे कहा कि में 5 फुट 9 इंच का हूँ मेरा वजन 65 किलोग्राम और स्लिम बॉडी और एवरेज लुकिंग बॉय हूँ और मेरा लंड करीब 8 इंच का है फिर मैंने उसका बंगले का पता पूछा। तब उसने नहीं दिया और कहा कि में तुमको एड्रेस तो नहीं दूँगी, लेकिन में तुमको जहाँ पर बुलाऊँगी, तुम वहीं पर चले आना, मेरे पास कार है और फिर उस कार में आकर बैठ जाना, लेकिन मेरी एक शर्त है। तब मैंने तुरंत शर्त पूछ ली। तब उसने कहा कि कार में बैठने के बाद में तुम्हारी आँख पर पट्टी बाँध दूँगी, क्योंकि तुम मेरा घर ना जान सको और वापस निकलने पर भी पट्टी बांधनी होगी। तब मैंने हाँ कर दी। तब उसने मुझसे कहा कि पति तो मॉर्निंग में ही चले जाएगें और बहन मॉर्निंग में कोचिंग और फिर वहाँ से ही स्कूल जाएगी और शाम को 6 बजे आएगी। तब हमने दूसरे दिन दोपहर 2 बजे का टाईम फिक्स किया और फिर उसने मुझे जगह बताई कि मुझे कहाँ खड़ा रहना है? और फिर वो डिसकनेक्ट हो गई। फिर दोस्तों मुझे सारी रात नींद नहीं आई और अब में 2 बजने का इंतज़ार करने लगा था।

फिर दूसरे दिन में ठीक 2 बजे वहाँ जाकर खड़ा हो गया। फिर 2 बजे एक कार आकर मेरे पास खड़ी हुई। अब उसने मुझे जो कलर की कार और जो कोड बताया था, वो सब ठीक था और फिर वो कार थोड़ी दूर जाकर खड़ी हो गई और कार का दरवाजा खोल दिया। फिर में यहाँ वहाँ देखकर कार में जाकर बैठ गया। अब कार में जो भाभी थी, उसको देखकर मेरा तो लंड तुरंत तन गया था और अब में मन ही मन बहुत खुश हो गया कि आज मुझे एक सेक्सी भाभी चोदने को मिलेगी। फिर भाभी ने मेरी आँख पर पट्टी बाँध दी और कार चलाने लगी। फिर थोड़ी देर के बाद कार एक जगह रुकी और फिर भाभी ने मुझसे कहा कि में तुम्हारी पट्टी खोल रही हूँ, तुम तुरंत बंगले के अंदर चले जाना। तब मैंने कहा कि ओके और फिर पट्टी खुलते ही में सीधा बंगले के अंदर चला गया। फिर भाभी मेरे पीछे आई वो कमाल की सेक्सी लग रही थी, उसने ड्रेस भी बहुत सेक्सी पहन रखी थी।

loading...

फिर में बंगले में अंदर गया तो तब मुझे पता चला कि उस बंगले में कोई नहीं था। फिर थोड़ी देर तक बात करने के बाद भाभी मुझे बेडरूम में ले गई और फ़्रीज़ में से विस्की निकालकर दो बड़े-बड़े पैग बनाए और एक मुझे दिया और एक वो पीने लगी थी। फिर थोड़ी देर के बाद मुझे नशा चढ़ने लगा और अब भाभी भी नशे में आने लगी थी। फिर भाभी ने कहा कि डांस करना है और फिर हम दोनों डांस करने लगे। अब डांस करते वक़्त उसके बूब्स मेरी छाती पर लग रहे थे और अब मेरा नशा दुगुना हो रहा था और अब भाभी को भी बहुत मज़ा आ रहा था। फिर में उसके लिप्स पर किसिंग करने लगा और डांस करते-करते उसके बूब्स को भी रब करने लगा था। अब भाभी पूरी तरह मस्ती में आ गई थी। अब में धीरे-धीरे उसके बदन को कपड़ो से आज़ाद करने लगा था। फिर थोड़ी देर में ही वो पूरी तरह से नंगी हो गई और नंगी ही डांस करने लगी थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

अब डांस करते वक़्त उसके बूब्स क्या उछल रहे थे? अब यह देखकर मेरा लंड पूरा तन गया था और फिर मैंने कहा कि अब मेरे भी कपड़े उतारो। तब उसने मेरे कपड़े उतार दिए। अब हम दोनों नंगे होकर डांस करने लगे थे। फिर में उसको बेड पर ले गया और उसके बूब्स को सक करने लगा और उसकी चूत में अपनी एक उंगली डालने लगा था। उसकी चूत एकदम क्लीन थी और टाईट थी। तब मैंने कहा कि अभी तक तुमने चदवाया है या नहीं? तो तब उसने कहा कि चुदवाया तो है, मेरे पति का तो छोटा है और वो ज्यादा टाईम तक नहीं टिक पाते है और 5 मिनट में ही अपना पानी छोड़ देते है और बोली कि तुम्हारा तो मेरे पति से डबल है, आज बहुत मज़ा आएगा। अब में उसकी चूत में अपनी दो उंगलियाँ डालकर अंदर बाहर करने लगा था और अब वो मेरा लंड सक करने लगी थी। अब फिंगरिंग करते-करते वो दो बार झड़ चुकी थी और में एक बार उसके मुँह में झड़ चुका था। फिर 30 मिनट के बाद मैंने कहा कि चलो अब मेरा लंड लेने के लिए तैयार हो जाओ। तब उसने कहा कि में तो कब से तैयार हूँ।

फिर मैंने उसके दोनों पैर अपने कंधे पर रख दिए और मेरे लंड को बराबर उसकी चूत के दरवाजे पर लाकर खड़ा कर दिया। अब मेरा लंड उसके दरवाजे पर दस्तक दे रहा था। फिर मैंने एक ही झटके में मेरा पूरा लंड उसकी टाईट चूत में घुसा दिया। तब वो चिल्ला उठी और बोली कि आह गांडू धीरे डालना, इतना क्यों ज़ोर लगा रहा है? रात को पति के सामने भी उसको रखना है, कही फट जाएगी तो पति को क्या कहूँगी? तो तब मैंने कहा कि पति को कहना कि तुम्हारे में दम नहीं है इसलिए आज में घोड़े के पास जाकर चुदवाकर आई हूँ और अब में ज़ोर-ज़ोर से धक्के लगाने लगा था। अब करीब 15 मिनट के बाद मेरा पानी निकलने वाला था। तब मैंने उससे कहा कि में झड़ने वाला हूँ। तब बोली कि अंदर ही डाल दो, मैंने आई-पिल्स ली है और फिर मैंने उसकी चूत के अंदर ही अपना पानी निकाल दिया। अब उसके चेहरे पर भी अजीब सी ख़ुशी थी। फिर में बाथरूम में जाकर थोड़ा फ्रेश हुआ, तो तब वो भी बाथरूम में फ्रेश होने को आई।

loading...

अब जब वो फ्रेश हो रही थी, तो तब उसकी गांड मेरे सामने थी। अब उसकी गांड देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था और फिर मैंने उससे कहा कि चलो अब तुम्हारी गांड मारता हूँ। तो तब वो बोली कि नहीं बाबा, तुम्हारा इतना बड़ा लंड तो मेरी चूत का तो हाल बेहाल कर देगा, मेरी गांड का क्या होगा? और मना करती रही, लेकिन मेरे मनाने पर वो मान गई थी और बोली कि धीरे से मारना, चूत जितना ज़ोर मत लगाना। तब मैंने कहा कि ठीक है और फिर उसको फिर से बेडरूम में ले आया और फिर मेरे लंड और उसकी गांड पर थोड़ी क्रीम लगाई और फिर उसकी गांड में अपना लंड घुसाने लगा। अब अभी मेरा लंड थोड़ा ही उसकी गांड में गया था कि वो चिल्लाने लगी कि मेरी गांड फट गई है, तुम अपना लंड बाहर निकालो, लेकिन मैंने उसकी एक नहीं मानी और फिर से एक ज़ोरदार झटका दिया और मेरा पूरा लंड घुसा दिया। तब वो और जोर-जोर से चिल्लाने लगी थी।

अब में धीरे-धीरे हिलने लगा। अब वो भी मज़े ले रही थी। अब मेरा पूरा लंड उसकी गांड में था और अब में मेरे जीवन का भरपूर मज़ा ले रहा था। फिर मैंने अपना पानी गांड में ही छोड़ दिया और फिर भाभी ने मुझे पट्टी बांधकर उसी जगह छोड़ दिया, जहाँ से हम गये थे ।।

धन्यवाद …

इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.