✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

loading...

इंग्लिश टीचर के मुहं में लंड

0
loading...

प्रेषक : राकेश …

हैल्लो दोस्तों, ये करीब जून के शुरू की बात है, तब मेरे एग्जॉम ख़त्म हो चुके थे। मेरी इंग्लिश की मेडम बहुत ही सेक्सी है और उसके शानदार बूब्स है और वो कपड़े भी ऐसे पहनती है कि उसके जिस्म का कुछ हिस्सा नजर आता रहता है। वो जैसे ही क्लास में आती थी तो उसके निप्पल खड़े होते थे, वो टाईट कमीज पहनती थी और उसकी ब्रा भी निप्पल के खड़े होने की वजह से टाईट रहती थी, उसके निप्पल अपना निशान उस पर बना लेते थे, फिर पढ़ाई तो भाड़ में ही जानी थी। उनका नाम सुनीता है, उनकी उम्र 28 साल है, वो दिखने में बहुत ही सेक्सी है, उनकी हाईट 5 फुट 3 इंच है और उनकी बहुत टाईट बॉडी है, उसकी शादी हो चुकी है, लेकिन वो अपने पति से खुश नहीं थी।

ख़ैर फिर में इंग्लिश का पेपर लेकर उनके घर पेपर के बारे में बातचीत करने गया, तो वो सलवार कमीज में बहुत खूबसूरत लग रही थी, उसकी कमीज थोड़ी छोटी थी। उनके घर में इतना शोर नहीं था ऐसा लगता था जैसे कोई भी ना हो। फिर उसके बाद उन्होंने मुझसे कहा कि में बुक लाती हूँ फिर डिसकस करते है। फिर थोड़ी देर के बाद उन्होंने मुझे अपने कमरे से आवाज़ दी और कहा कि यहाँ आ जाओ, तो में चला गया। अब बुक उनके कमरे में किसी ऊँची जगह पर रखी थी, उफ क्या सीन था? अब मेडम बुक को लेने के लिए ऊपर होती, तो उनकी शर्ट भी ऊँची हो जाती और मुझे उनकी पीठ नजर आती। अब मेरा तो उसी वक़्त खड़ा हो गया था। फिर में उनके पास गया और उनसे कहा कि मेडम में आपको उठाता हूँ, तो आप बुक को उतार लेना। फिर उन्होंने कहा कि तुम मुझे उठा सकते हो? तो मैंने जल्दी से जवाब दिया हाँ मेडम। फिर उन्होंने कहा कि ठीक है तो आज तुम्हारा ज़ोर देख लेते है।

फिर उन्होंने कहा कि तुम मुझे पीछे से उठाकर ऊँचा करो और में बुक उतारती हूँ और इससे तुम्हारे ज़ोर का पता चल जाएगा। अब में तो चाहता ही यही था तो में मान गया, उफ़फ्फ अब मेरे तो पसीने छूट रहे थे। फिर मैंने उसको उनके कूल्हों के नीचे से उठाया और उनका वजन ज्यादा था, लेकिन मैंने उसे उठा ही लिया। अब उनके कूल्हें मेरे पेट से लग रहे थे और अब वो अभी ऊपर बुक खोज रही थी और मुझसे पूछा कि थके तो नहीं, तो मैंने कहा कि नहीं। फिर मैंने उसे थोड़ा सा नीचे किया तो अब उनके कूल्हें मेरे खड़े हुए लंड के साथ लगने लगे थे, लेकिन उन्होंने कुछ भी नहीं कहा। अब मुझे तो ऐसा लग रहा था कि मेरी बरसों की ख्वाइश पूरी होने जा रही है। फिर मैंने पूछा कि मेडम बुक मिली या नहीं तो उन्होंने कहा कि सब्र करो। फिर मैंने आहिस्ता-आहिस्ता अपना एक हाथ उनकी शर्ट के नीचे ले जाना शुरू किया, तो उनको लगा कि में थक गया हूँ और वो फिसल रही है।

ख़ैर अब मेरे हाथ उनकी बॉडी को लगने लगे थे, अब मेरा लंड तो बस मेरी अंडरवेयर को फाड़ने लगा था। फिर उन्होंने तुरंत मुझसे कहा कि तुम मुझे उतार दो, तो मैंने जल्दी से उन्हें उतारा, उफ़फ उनके कड़क निप्पल। अब मेरे अंदर तो करंट दौड़ रहा था। फिर उन्होंने कहा कि बुक नहीं मिल रही है, में तुम्हारे लिए कुछ पीने को लाती हूँ और फिर ऐसे ही पेपर के बारे में बातचीत कर लेंगे। फिर मैंने कहा कि ओके, तो वो किचन में चली गयी। अब में कमरे में अकेला था तो मैंने अपने लंड को जल्दी से हाथ लगाया और दबाया ताकि मेरे लंड से जल्दी ही पानी निकल जाए और मुझसे मेडम के साथ कोई गलती ना हो जाए। उनके पति आर्मी में है और वो शायद वहाँ गया हो। ख़ैर अभी मैं अभी अपना लंड दबा ही रहा था कि मेडम शरबत लेकर आ गयी और वो कब किचन से निकली मुझे कुछ पता ही नहीं चला। अब उन्होंने मुझे लंड को दबाते देख लिया था, तो मैंने जल्दी से अपने लंड पर से अपना हाथ हटा लिया।

loading...

अब मैं किसी हद तक तो चाहता था कि मेडम मुझे देखे, क्योंकि मुझे उन्हें गर्म करना था। फिर मेडम ने मुझे स्माइल दी और पूछा कि ये क्या कर रहे थे? तो मैंने कहा कि कुछ नहीं। फिर मैंने शरबत लिया और वो दरवाज़े की तरफ बढ़ी और दरवाज़ा लॉक कर दिया। फिर मैंने उन्हें हैरान होकर देखा तो उन्होंने कुछ नहीं कहा और मेरे पास आकर बैठ गयी। अब वो मेरे इतनी पास बैठी थी कि में दूर नहीं हो सकता था। फिर मैंने उनकी आँखों में देखा तो ऐसा लग रहा था कि वो अब तक सेक्स की तलाश में है। फिर मैंने उनको टच करना चाहा, लेकिन में डर रहा था। फिर उसके बाद उन्होंने मुझसे पेपर लिया और फेंक दिया और पूछा कि तुमने पहले कभी किया है? तो मैंने पूछा कि क्या? तो उन्होंने कहा कि अंजान मत बनो। फिर में दिल ही दिल में खुश हुआ और उन्हें जवाब दिया जी हाँ एक बार किया है। फिर उन्होंने पूछा कि क्षकश या क्षकशकश। तो मैंने जानबूझकर उनसे पूछा कि इनका मतलब क्या है? तो उन्होंने कहा कि सिर्फ किसिंग, टचिंग या चुदाई। फिर मैंने तो चुदाई का नाम सुना तो मैंने तुरंत जवाब दिया कि हाँ मेडम। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मुझसे बिल्कुल भी कंट्रोल नहीं हुआ तो मैंने जल्दी से उनके दोनों हाथों से पकड़ा और सोफे पर लेटा दिया और उन्हें किस करने लगा, तो उन्होंने कुछ भी नहीं कहा। अब में गर्म हो गया था, फिर मैंने उन्हें फ्रेंच किस किया और अब मेरा लंड तो बस फुल हार्ड था, मैंने शर्ट पेंट पहनी हुई थी। फिर मैंने उनके बूब्स पर बहुत देर तक किस किया, अब उनके बूब्स तो उनकी शर्ट के ऊपर से भी थोड़े-थोड़े नजर आ रहे थे। अब वो भी गर्म हो गयी थी और मेरी किसिंग उन्हें और गर्म करती जा रही थी। अब उन्होंने सोफा पकड़ लिया था और जो में करना चाहता था मुझे करने दिया। फिर मैंने उनकी शर्ट उतारी और अपनी शर्ट भी उतार दी। अब वो इतनी गर्म हो चुकी थी कि वो लाल हो रही थी। फिर मैंने उनकी सलवार उतारी और उसके बड़े-बड़े कूल्हों को दबाने लगा। फिर मैंने अपनी पेंट उतारी और अंडरवेयर भी उतार दी और उससे कहा कि मेडम प्लीज उल्टी हो जाओ, तो उन्होंने मुझसे कहा कि चुदाई करोगे।

loading...

फिर मैंने कहा कि अब मुझसे कंट्रोल नहीं होता। फिर उनके बूब्स सोफे से टच हुए तो दबने लगे और में उन्हें किसिंग करने लगा और उनकी कमर पर अपना हाथ फैरने लगा, तो उन्हें बहुत मज़ा आया। फिर में उनकी पीठ पर लेट गया तो मेरा लंड उनकी चूत से टच हुआ। अब मेरा लंड भी गर्म था और उनकी चूत भी गर्म थी। फिर मैंने उनकी ब्रा को पीछे से खोला और उतारकर फेंक दिया तो उनके बूब्स तो जैसे आज़ाद हो गये हो और ज्यादा खड़े हो गये। फिर मैंने उनके बूब्स को बहुत ज्यादा दबाया और फिर उन्हें सीधा किया और उनके बूब्स को चूसा उफफफ्फ़ क्या टेस्ट था उनके बूब्स का? फिर मैंने उनके निपल्स को चूसने के बाद उनकी दोनों टाँगें सीधी की और ऊपर कर दी और अपना लंड उनकी चूत में डाला, क्या टाईट चूत थी उनकी? फिर मैंने अपना लंड उनकी चूत में अंदर किया तो मेरा लंड थोड़ा ही अंदर गया और उससे मज़ा आया। अब वो आह, ओह, प्लीज और जैसी आवाजे निकाल रही थी। फिर मैंने थोड़ा और ज़ोर लगाया तो मेरा पूरा लंड उनकी चूत में चला गया और वो बहुत तेज चीखी, लेकिन उन्होंने मुझे रोका नहीं।

फिर मैंने अपना लंड अंदर बाहर अंदर बाहर करना शुरू किया और करीब 30-40 मिनट तक उनकी चुदाई की। अब मेरा पानी निकल आया था और उनका भी पानी निकल गया था, उफफफ्फ क्या दिन था? मैंने कभी सोचा भी नहीं था। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि अब तुम मेरे मुँह में अपना लंड डालो। फिर मैंने थोड़ी देर तक और उनकी चुदाई की और उनके बाद उनके मुँह में अपना लंड डाल दिया और उसे अंदर बाहर करने लगा, तो मुझे बहुत मज़ा आया। फिर 15 मिनट के बाद उन्होंने मुझसे कहा कि अब बस करो मेरे पति आते ही होंगे, अब तुम जाओ। फिर मैंने उनके पूरे जिस्म पर किसिंग की और फिर अपने कपड़े पहने और उसे फ्रेंच किस देकर कहा कि मेडम आप चाहती है कि में फिर आऊँ। फिर उन्होंने कहाँ कि मुझे अपना मोबाईल नंबर दे दो, जब भी मेरे घर पर कोई नहीं होगा तो में तुम्हें बुला लूँगी। फिर मैंने कहा कि ठीक है, लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि तुम मुझे फोन नहीं करोंगे, तो मैंने कहा कि ठीक है। फिर मैंने उसे अपना मोबाईल नंबर दिया और अब तक में उसे 3 बार चोद चुका हूँ ।।

धन्यवाद …

इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.