✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

loading...

दोस्त के साथ उसकी बीवी की चुदाई

0
loading...

प्रेषक : यश …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम यश है, में गुजरात के राजकोट शहर से हूँ। मेरा लंड 8 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है और मेरी उम्र 26 साल है। आज में आपको जो आपको कहानी सुनाने जा रहा हूँ, वो मेरी और मेरे दोस्त अमित और उसकी बीवी नेहा की है। आज से करीब 2 महीने पहले मुझे ऑफिस के काम से अहमदाबाद जाना पड़ा, तो कंपनी ने मेरा रहने का इंतजाम एक होटल में कर दिया था। फिर में करीब सुबह 6 बजे अहमदाबाद पहुँचा और होटल में जाकर थोड़ा आराम किया और फिर मैंने अपने फ्रेंड अमित को फोन किया और उसको बताया कि में अहमदाबाद आया हूँ और होटल से तुम्हें फोन कर रहा हूँ। तो वो मुझे डाटने लगा और कहने लगा कि यार दोस्त यहाँ रहता है और तुम होटल में ठहरे है। फिर उसने नेहा को फोन दिया, तो उसने मुझसे कहा कि आपको अगर हमारे साथ दोस्ती रखनी है तो हमारे घर पर आ जाइए, तो में ना नहीं कह सका।

फिर अमित ने मेरे होटल का एड्रेस पूछा और बोला कि तू वहीं रुक, में अभी तुझे ले जाता हूँ और फिर थोड़ी देर के बाद वो होटल पहुँच गया और फिर हम उसकी गाड़ी में उसके घर पहुँचे। फिर नेहा ने मुस्कुराकर मेरा स्वागत किया, वो क्या लग रही थी? उसने ट्राउजर और टी-शर्ट पहना था और टी-शर्ट में से उसके बड़े-बड़े बूब्स साफ दिख रहे थे। अब मेरा लंड तो उसको देखकर ही टाईट हो गया था। फिर में नाश्ता करके अपने काम पर चला गया और नेहा से बोला कि में दोपहर को नहीं आऊंगा, तो तब वो बोली कि ठीक है। फिर में रात को करीब 10 बजे अमित के घर पहुँचा। अब अमित भी ऑफिस से आ चुका था। फिर हमने साथ में खाना खाया और बातें करने लगे। फिर हमने थोड़ी देर तक इधर उधर की बातें की और फिर अमित ने कहा कि यार हमारी सेक्स लाईफ अच्छी नहीं चल रही है। तब मैंने कहा कि क्यों? तो तब वो बोला कि यार में थोड़ी देर में ही झड़ जाता हूँ। फिर तभी नेहा भी आ गयी और हमारे साथ बैठ गयी, उसने टाईट टी-शर्ट पहनी थी, जिसमें से उसके गोल-गोल और बड़े-बड़े बूब्स साफ साफ दिख रहे थे और उसने ब्रा भी नहीं पहनी थी, जिससे उसकी निप्पल भी दिख रही थी।

अब मेरा लंड तो उसे देखकर ही टाईट हो गया था। फिर अमित ने कहा कि क्या कोई ऐसी दवाई नहीं आती? जिससे ज्यादा देर तक चले। फिर तब नेहा ने भी कहा कि हाँ ये तो 10 मिनट में झड़ जाते है और मुझे उत्तेजना आही ही नहीं है। तब मैंने उसे स्प्रे लगाने को कहा और फिर हम सो गये। फिर दूसरे दिन सुबह में एक्सरसाईज कर रहा था, तो तभी अमित आया और बोला कि यार तुम्हारी बॉडी तो बहुत अच्छी है। फिर तब मैंने कहा कि में रोज एक्सरसाईज करता हूँ और तभी नेहा भी आ गयी और वो मेरी छाती और जाँघो को देखने लगी।

फिर थोड़ी देर के बाद अमित ऑफिस चला गया और में स्नान करने चला गया। फिर में स्नान करके सिर्फ़ टावल में बाहर आया और मेरी आदत है कि में स्नान करके पूरे बदन पर पाउडर लगाता हूँ। तब मैंने भाभी को आवाज दी कि भाभी पाउडर कहाँ है? तो वो अपने बेडरूम में से पाउडर का डिब्बा लेकर आई और फिर वो मेरी छाती की तरफ देखने लगी और मुझे डिब्बा दिया। अब भाभी अभी वही खड़ी थी और फिर मैंने अपनी छाती और हाथों पर पाउडर लगाया। अब भाभी यह सब देख रही थी और फिर वो बोली कि पीठ पर तो नहीं लगाया। तो तब मैंने कहा कि मेरा हाथ नहीं पहुँच रहा, क्या आप लगा देगी? तो तब उसने पाउडर लिया और मेरी पीठ पर पाउडर लगाने लगी। अब मेरा लंड तो पूरा टाईट हो गया था। अब वो हल्के-हल्के हाथों से पाउडर लगा रही थी और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।

फिर भाभी पाउडर लगाकर बोली कि अब दोपहर को खाने में क्या बनाऊँ? तो तब मैंने कहा कि आपके हाथ का जो भी बनाएगी, मुझे अच्छा लगेगा, तो वो मुस्कुराकर चली गयी। फिर दोपहर को खाना खाने के बाद में मेरे काम से ऑफिस चला गया। फिर शाम के करीब 8 बजे अमित का फोन आया कि आज होटल में खाना खाने जाना है, तुम कब तक फ्री हो जाओगे? तो मैंने कहा कि में 10 बजे तक फ्री हो जाऊँगा। फिर में 10 बजे सीधा होटल पहुँचा और फिर वहाँ पर खाना खाने के बाद हम घर पर पहुँचे और फिर कपड़े चेंज करने चले गये। अब मैंने बरमूडा और टी-शर्ट पहना था, अमित हमेशा लुंगी पहनता है और भाभी ने नाइटी पहनी थी, वो क्या लग रही थी? अब मेरा लंड तो उसे देखकर ही टाईट हो गया था। फिर हम हॉल में बैठे और बातें करने लगे। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

फिर अमित ने कहा कि यार कॉलेज में जो ऋतु नाम की लड़की के साथ तेरा चक्कर चल रहा था, उसका क्या हुआ? तो तब मैंने कहा कि उसकी तो शादी भी हो गयी। फिर तब अमित ने कहा कि उसके साथ कुछ किया था या नहीं। फिर तब मैंने कहा कि कई बार। तो तब अमित ने कहा कि यार तेरी बॉडी पर तो कोई भी लड़की फिदा हो सकती है, तेरी बॉडी ऐसी है तो तेरे लंड की साईज क्या होगी? तो तब मैंने कहा कि 8 इंच है। तो तब वो बोला कि 8 इंच, नहीं हो सकता, इतना बड़ा लंड नहीं हो सकता। तो तब नेहा ने भी कहा कि अमित का तो 5 इंच का है, फिर भी मुझे बड़ा लगता है तो 8 इंच का तो कैसे हो सकता है? तो तब मैंने कहा कि में दिखा सकता हूँ। तब अमित ने कहा कि दिखा तो तेरा इतना बड़ा है तो। फिर मैंने अपने बरमूडे में से अपना लंड बाहर निकालकर उसे दिखाया, तो वो दोनों देखते ही रह गये और बोले कि क्या बड़ा लंड है? फिर अमित मेरा लंड अपने एक हाथ में लेकर उसकी साईज नापने लगा, तो मेरा लंड पूरा 8 इंच से और 2 सेंटीमीटर ज़्यादा हुआ। तब वो बोला कि इसका तो 8 इंच से भी बड़ा है और फिर उसने नेहा को देखने को कहा। फिर नेहा ने भी मेरा लंड अपने हाथ में लिया और देखने लगी। अब तो मेरा लंड पूरा लोहे की रोड की तरह खड़ा हो गया था।

फिर मैंने अमित से कहा कि तेरा तो दिखा कितना बड़ा है? तो फिर उसने भी अपना लंड बाहर निकाला तो वो सिर्फ़ 5 इंच का था। फिर नेहा ने अमित का लंड भी अपने एक हाथ में लिया और बोली कि 8 इंच का लंड देखकर तो कोई भी लड़की तुमसे चुदवाने को राज़ी हो जाएगी। तब अमित ने नेहा से कहा कि लगता है तुम्हें भी 8 इंच का लंड अपनी चूत में डलवाने का मन हो रहा है, तो तब वो कुछ नहीं बोली। अब अमित समझ गया था कि नेहा को भी मज़ा लेने का मन हो रहा है। फिर वो नेहा के पास आया और उसके बूब्स दबाने लगा और मुझे भी इशारा किया। फिर में भी नेहा का गाउन उसके घुटनों तक ऊपर करके उसके पैरो को सहलाने लगा, क्या गोरे-गोरे और मखमल जैसे पैर थे उसके? अब में तो उसके पैरों पर किस करता जाता और अपना हाथ फैरते जा रहा था। फिर मैंने उसका पेटीकोट उसकी कमर तक उठा लिया और उसकी जाँघो पर अपना हाथ फैरने लगा था और किस करने लगा था।

अब तो नेहा भी पूरी तरह से कामुक हो गयी थी और अपने मुँह से आवाजे निकाल रही थी। फिर में उसकी पेंटी के ऊपर से उसकी चूत पर अपनी उंगलियाँ रगड़ने लगा था और किस करने लगा था। अब तो नेहा पूरे जोश में आ गयी थी और फिर अमित ने उसका ब्लाउज निकाल दिया और अब वो उसकी ब्रा के ऊपर से किस कर रहा था। फिर मैंने भी उसका पेटीकोट निकाल दिया। अब वो सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी। फिर नेहा ने मेरा शर्ट और पेंट निकाल दिया। अब मेरा 8 इंच का लंड मेरी चड्डी में से बाहर निकलने के लिए बेताब हो रहा था। फिर नेहा मेरी चड्डी के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगी और अब अमित ने भी अपने पूरे कपड़े निकाल दिए थे। उसका लंड करीब 5 इंच का था। फिर नेहा ने मेरा लंड मेरी चड्डी में से बाहर निकाल दिया और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी थी।

loading...

फिर अमित ने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया। अब में अमित का लंड चूस रहा था और नेहा मेरा लंड चूस रही थी। मैंने पहले कभी किसी का लंड अपने मुँह में नहीं लिया था। फिर नेहा ने अमित का लंड अपने मुँह में डाल दिया और अमित मेरा लंड चूसने लगा। अब वो तो मेरे लंड का सुपाड़ा निकालकर उस पर अपनी जीभ फैरने लगा था और मेरा पूरा लंड अपने मुँह में डालकर चूसने लगा था। अब मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था। फिर हम तीनों ट्राई एंगल में हो गये। अब में नेहा की चूत चाटने लगा था और नेहा अमित का लंड चूस रही थी और अमित मेरा लंड चूस रहा था, वाह क्या मज़ा आ रहा था? अब नेहा की चूत पूरी तरह से चिकनी हो गयी थी। फिर वो मेरे ऊपर लेट गयी और मेरे होंठ अपने होंठो में डालकर चूसने लगी थी और अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी थी। अब में भी उसकी जीभ को चूसने लगा था। फिर उसने मेरा लंड अपने एक हाथ में लिया और अपनी चूत में डाल दिया और ऊपर नीचे होने लगी थी और अपने मुँह से आवाजे निकालने लगी थी। फिर अमित ने नेहा की गांड पर तेल लगाना शुरू किया और उसकी गांड में अपनी एक उंगली डाल दी और अपनी उंगली अंदर बाहर करने लगा था।

फिर अमित ने अपने लंड पर तेल लगाया और नेहा की गांड में अपना लंड डाल दिया। नेहा ज़ोर से चिल्लाई आह फट गयी मेरी गांड, हाईईईई माँ और अब नेहा दो-दो लंड का मज़ा ले रही थी। अब अमित पीछे से धक्का देता, तो उसका लंड नेहा की गांड में घुसता और मेरा लंड उसकी चूत में घुसता, आह क्या मज़ा आ रहा था? फिर अमित ने करीब 3 मिनट में अपना पानी नेहा की गांड में ही छोड़ दिया। फिर मैंने नेहा को डॉगी स्टाइल में कर दिया और पीछे से अपना पूरा लंड उसकी चूत में डालकर धक्के देने लगा था। अब तो नेहा पूरे जोश में आ गयी थी और बोल रही थी पूरा डाल दे, क्या मज़ा आ रहा है? और ज़ोर से, पूरा लंड घुसा दे और अब में भी जोश में आकर ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा था। फिर मैंने नेहा को बेड पर सुला दिया और में बेड के नीचे खड़ा होकर खड़े-खड़े धक्का देने लगा था, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस जाता था। अब तो में पूरा लंड अंदर घुसाता और बाहर निकाल रहा था। फिर करीब आधे घंटे के बाद नेहा शांत हो गयी और मेरा लंड अपने मुँह में डालकर अंदर बाहर करने लगी थी। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने भी अपना पानी उसके मुँह में ही निकाल दिया। फिर दोस्तों हम दोनों को जब कभी भी कोई मौका मिला, तो हमने खूब चुदाई की और खूब मजा किया ।।

धन्यवाद …

इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.