✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

loading...

चाची का दूधवाला

0
loading...

प्रेषक : रमेश …

हैल्लो दोस्तो, मेरा नाम रमेश है और मेरी चोदन डॉट कॉम पर यह पहली स्टोरी है। आप सभी को मेरी पहली कहानी ज़रूर पसंद आएगी। यह स्टोरी मेरी और मेरी चाची के बीच की है, मेरी चाची बहुत सुंदर है और वो अभी 32 साल की है, उनके एक 5 साल की लड़की है। मेरी चाची दिखने में बहुत सेक्सी है, उनका फिगर साईज 36-30-38 है, वो हमेशा साड़ी पहनती है, उनके बूब्स बहुत बड़े-बड़े है और बहुत सुडोल है, उनकी गांड भी ऐसी ही है, वो साड़ी हमेशा अपनी नाभि के नीचे बाँधती है, उनकी कमर बहुत गोरी है, वो बहुत अच्छे खानदान की है।

फिर एक दिन में मेरी चाची के यहाँ सोने चला गया था, क्योंकि मेरे चाचा आउट ऑफ स्टेशन गये थे तो चाची अकेली ना सोए इसलिए चाचा ने मुझे चाची के पास छोड़ दिया था। अब में बहुत खुश था, क्योंकि चाची और में उस रात एक ही बेड पर सोए थे। चाची ने आज नीली साड़ी जो कि बहुत पारदर्शी थी और साथ में उन्होंने ब्लेक कलर का बैकलेस ब्लाउज पहन रखा था, उनके ब्लाउज पर थोड़ी डिज़ाइन थी और वो इस समय बहुत सेक्सी लग रही थी। अब में चाची को वैसे ही देखने लगा था तो मेरा लंड टाईट हो गया तो मैंने बाथरूम में जाकर मेरा पजामा उतार डाला और सोने के लिए जाने लगा, मेरी चाची साड़ी पहनकर ही सोती थी। फिर उन्होंने मेरे सामने ही अपने पल्लू में लगी पिन निकाली और मेरे बाजू में सोने लगी, तो उन्हें देखते-देखते ही मुझे नींद आ गई। फिर अचानक से सुबह डोर बेल बजी, तो चाची अपनी साड़ी ठीक करके दरवाजा खोलने गई, तो वहाँ हमारा दूधवाला था। हमारा दूधवाला 45 साल का आदमी था और वो हट्टा-कट्टा था और उसका नाम संजू था।

फिर चाची ने और संजू ने एक दूसरे को देखकर नॉर्मल स्माइल की। अब में यह सब बाथरूम से देख रहा था, क्योंकि में दरवाजे के बहुत नज़दीक था। फिर चाची अंदर बर्तन लेने गई और में टॉयलेट करके बाहर आया और फिर से उन दोनों को देखने लगा। अब चाची अभी भी आधी नींद में थी और ठीक से चल भी नहीं पा रही थी। अब चाची की नाभि बहुत दिखकर आ रही थी। फिर वो दूध लेने के लिए जैसे ही नीचे झुकी, तो उनका पल्लू नीचे आ गिरा, जिससे उनके बूब्स दिख रहे थे। अब उनका पल्लू पूरा नीचे गिर गया था और नींद में होने के कारण उन्होंने उस पर ध्यान नहीं दिया, लेकिन हमारा हरामी संजू चाची के बूब्स को घूरकर देख रहा था और उनकी नाभि को भी देख रहा था। अब बर्तन भर चुका था और दूध नीचे गिर रहा था, तो भाभी अचानक से बौखलाकर बोली कि संजू ये क्या कर रहे हो? दूध नीचे गिर गया देखो। अभी भी संजू चाची की नाभि की तरफ देख रहा था, तो चाची ने संजू को धक्का मारकर जगाया।

loading...

फिर चाची ने पूछा कि क्या देख रहे हो? तो संजू बिना कुछ बोले चला गया। फिर जब वो खड़ा हुआ तो उसका लंड खड़ा था और चाची उसे अपनी बड़ी आँखों से देखने लगी थी। फिर में रूम में जाकर सो गया और फिर ऐसे ही ये दिन भी बीत गया और इस पूरे दिन में चाची काफ़ी नर्वस थी। अब आज चाची नाइटी पहनकर सोई थी और उन्होंने अंदर ब्रा भी नहीं पहनी थी। अब मुझे उनके बड़े-बड़े निप्पल साफ़- साफ़ दिख रहे थे। फिर सुबह फिर से दूधवाला आया और इस बार चाची ने दूधवाले को एक नॉटी स्माइल दी। अब संजू सब समझ गया था, अब उसे सिर्फ़ चाची के एक इशारे की ज़रूरत थी। फिर चाची दूध लेने के लिए नीचे झुकी तो उनके बूब्स पूरे दिख रहे थे। अब चाची ने अपने बाल खुले छोड़ दिए थे, जिससे वो और भी सेक्सी लग रही थी।

अब संजू चाची के बूब्स को देख रहा था और अब चाची ने यह सब चुपके से देख लिया और इसी का फायदा लेकर उन्होंने मोच का बहाना करके नीचे गिर गई, तो संजू अचानक उसे उठाकर बोला कि मेम साहब क्या हुआ? क्या हुआ? पूछने लगा। फिर चाची ने कहा कि मेरे पैर में मोच आ गई है। फिर संजू ने चाची की गांड और सिर पर हाथ रखकर चाची को उठाया और दूसरे बेडरूम में लेकर चला गया। फिर चाची ने बेड पर सोते हुए पूछा कि तुम मेरे बूब्स को क्यों देखते हो? तो संजू शर्माकर बोला कि आप हमें बहुत पसंद है। फिर चाची बोली कि फिर इतना डरते क्यों हो? आज तुम्हारी मालकिन के साथ जो करना है करो। फिर संजू ये सुनकर बहुत खुश हो गया। अब वो चाची के बूब्स को उनकी नाइटी के ऊपर से ही दबा रहा था और चाची आआआआआआअहह, उूउऊहह, धीरे दबाओं नाआआआआआ, प्लीज ऐसे कहने लगी थी, लेकिन संजू पूरे जोश में था। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

फिर चाची उठी और अब संजू चाची के गाउन को खोल रहा था। अब वो धीरे-धीरे उनके पीछे के बटन को खोल रहा था और फिर उनकी पीठ को सहलाने लगा और चाची भी इसे खूब इन्जॉय कर रही थी। फिर संजू ने चाची का पूरा गाउन उतारा, तो उसे चाची का स्वर्ग दिखा, उनके बूब्स बहुत गोरे थे और निप्पल भी काफी बड़े थे। अब संजू चाची के निप्पल अपने मुँह में डालकर जैसे कोई बच्चा दूध पी रहा हो ऐसे चूस रहा था। सुनीता तुम्हारा दूध तो बहुत मीठा है, तो चाची बोली कि पीओ मेरे दूध को आआअहह बहुत मज़ा आ रहा है संजू और प्यार करो मुझे। अब चाची खुद संजू के कपड़े और अंडरवेयर उतारने लगी थी और उसके लंड को लॉलीपोप की तरह चूसने लगी थी और बीच बीच में आने वाला पानी भी पीने लगी थी और बीच-बीच में संजू के लंड को भी चाटने लगी थी। अब संजू का लंड पूरा खड़ा हो चुका था और चाची की चूत में जाने के लिए पूरा तैयार था। अब चाची की चूत काफी बड़ी होने के कारण उसका लंड आसानी से अंदर चला गया था, लेकिन फिर भी चाची को काफ़ी तकलीफ़ हो रही थी और वो दर्द से आहह, आईईईईईईईईईईईईईईईईई, हाईईईईईईईई चिल्ला रही थी और कह रही थी चोदो और चोदो मुझे, दूधवाले मेरा पूरा दूध आज निकाल दो और फिर चाची का पानी निकल गया।

फिर इसके साथ ही संजू का भी पानी निकल गया। अब संजू जब अपने कपड़े पहन रहा था, तो तब चाची ने अपनी बड़ी सी गांड आगे कर दी, तो ये देखकर संजू का लंड फिर से खड़ा हो गया। अब संजू चाची की गांड में अपना लंड घुसा रहा था। अब इससे पहले सिर्फ़ चाचा ने ही चाची की गांड में अपना लंड डाला था, इस कारण उनकी गांड का छेद अभी भी बहुत टाईट था। फिर संजू ने एक जोरदार झटका मारा तो उसका लंड थोड़ा सा अंदर चला गया। फिर चाची ज़ोर से आआहह चिल्लाई और दो झटकों के बाद उसका लंड पूरा अंदर घुस गया। अब संजू चाची को घोड़ी के जैसे बैठाकर चोद रहा था और अपने दोनों हाथों से उनके बूब्स को दबा रहा था। अब चाची अपनी उंगलियों को अपनी चूत में डालने लगी थी और फिर संजू ने अचानक से अपना पानी निकाल दिया। अब संजू अपने कपड़े पहनकर जा चुका था और चाची अब भी बेड पर नंगे बदन लेटी हुई थी ।।

धन्यवाद …

इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.