✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

loading...

भाभी और उसकी बहन रीना

0
loading...

प्रेषक : राकेश …

हैल्लो दोस्तों, में राकेश फिर से एक बार आपके सामने अपनी नई कहानी लेकर आया हूँ। दोस्तों में भाभी और उसकी बहन रीना की खूब चुदाई करता था और उस दिन रीना की तो खूब गांड मारने के बाद में काफ़ी खुश था। उसी हफ्ते में रीना को वापस जाना था तो दूसरे दिन जब में कॉलेज से घर आ रहा था तो भाभी का फोन आया। भाभी बोली रीना इस हफ्ते जा रही है और वो तुम्हें बहुत याद कर रही है।

फिर में कॉलेज से सीधे उनके घर पर चला गया तो रीना काफ़ी उदास थी। मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ यार? क्यों उदास हो? तो वो बोली 2-3 दिन के बाद मुझे वापस जाना है इसलिए। मैंने कहा कि क्या बात है? अब मेरा लंड इतना अच्छा लगने लगा है। तभी भाभी आई और बोली रीना पर तुमने क्या जादू कर दिया है? वो तो सुबह शाम तुम्हें ही याद करती रहती है। मैंने कहा कि आप भी तो मेरे लंड को याद करती रहती हो, तो वो भी तो याद करेगी ना। फिर मैंने भाभी से कहा कि भाभी में आज आपकी गांड मारना चाहता हूँ। भाभी बोली नहीं मुझे यह सब पसंद नहीं है और रीना भी कह रही थी कि बहुत दर्द होता है। फिर मैंने रीना से पूछा कि तुम्हें कितना मज़ा आया था? तो रीना मेरे सामने देखकर मुस्कुराई। फिर मैंने पूछा कि सही है ना गांड मरवाने में ज़्यादा मज़ा आता है ना, तो उसने अपना सिर हिलाकर हाँ में जवाब दिया। मैंने कहा कि भाभी बहुत मज़ा आयेगा आप एक बार डलवा कर तो देखो।

फिर हम बातें करते-करते बेडरूम में पहुँच गये। रीना भी मेरे पीछे-पीछे आई। अब रीना ने पीछे से आकर मुझे पकड़ लिया और मुझे बेड पर गिरा दिया। मैंने कहा कि क्या बात है? आज ज़्यादा इच्छा हो गयी है क्या? तो उसने हाँ में अपना सिर हिलाया। फिर इतने में भाभी भी मेरे ऊपर आ गिरी और मैंने कहा कि क्या बात है? आज दोनों बहनें मिलकर मेरा बलात्कार करने वाली हो क्या? तो रीना बोली कि रोज आप करते हो तो आज हम करेंगे। तभी भाभी ने मेरी टी-शर्ट निकाल दी और रीना मेरी पेंट को खोलने लगी और बोली कि आज तुम कुछ मत करना, जो करेंगे हम ही करेंगे। मैंने कहा कि ठीक है, अब में सिर्फ अंडरवेयर में था। फिर रीना ने मेरा लंड पकड़कर अपने मुँह में लेना शुरु कर दिया और फिर मैंने कहा कि तुम भी तो अपने कपड़े ऊतारो। वो दोनों अपने-अपने कपड़े उतारने लगी और कुछ ही सेकेंड में वो दोनों नंगी हो गयी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

फिर मैंने कहा कि में देखना चाहता हूँ कि तुम दोनों कितना अच्छा सेक्स करते हो? अब तुम एक दूसरे को किस करो। भाभी तुरंत ही रीना के मुँह पर अपना मुँह रखकर चूसने लगी तो रीना भी भाभी के बूब्स दबाने लगी। फिर भाभी ने रीना को लेटाकर उसकी चूत में उंगली डालकर उसको मज़े देने लगी। मैंने कहा कि भाभी रीना की चूत चाटो। फिर मैंने रीना के पैरों को पूरा फैला दिया ताकि भाभी उसकी चूत अच्छी तरह से चाट सके। फिर रीना मेरा लंड पकड़कर उसके मुँह की तरफ ले गयी और भाभी ने अपनी जीभ रीना की चूत में डाल दी। अब वो ज़ोर-ज़ोर से सिसकारियां लेने लगी और वो मेरा लंड तो ऐसे चाटने लगी कि जैसे मानो आज पूरा खा जायेगी। अब रीना की चूत में से खूब सारा पानी बहने लगा था और अब भाभी बिना थके उसकी चूत चाट चाटकर रीना को मज़ा देने लगी थी।

फिर रीना बोली दीदी बस करो अब मुझसे सहन नहीं हो रहा है। तभी भाभी ने कहा कि अब तुम हमारे बीच में आ जाओ। फिर वो दोनों मेरा लंड अपने मुँह में लेकर ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगी। कभी भाभी मेरे पीछे आकर अपनी चूत मेरे मुँह पर रख देती तो कभी रीना अपनी चूत रख देती। अब हम चुदाई के दरिया में डुबकियां लगा रहे थे। तभी भाभी बोली कि अब बस करो और हमारी चूत को शांत कर दो। मैंने कहा कि नहीं भाभी आज तो आपकी गांड मारनी है। भाभी बोली जो करना है करो, लेकिन जल्दी करो। फिर तभी रीना ने थोड़ी सी क्रीम अपनी उंगली पर लगाकर और थोड़ी सी भाभी की गांड में लगाकर अपनी उंगली उनकी गांड में डालने लगी। फिर कुछ देर के बाद रीना बोली तुमने भाभी की चूत को बहुत शांत किया है। अब उसकी मस्त गांड को भी आज फाड़ दो। तभी भाभी डॉगी स्टाइल में आ गयी और पूरी गांड फैला दी और रीना ने भी मेरा लंड पकड़कर थूक लगाकर भाभी की गांड पर रख दिया और मेरे दोनों अंडो को सहलाने लगी। अब में बहुत गर्म हो चुका था और मैंने थोड़ा सा जोर से धक्का मारा तो चिकनाहट की वजह से मेरा आधा लंड भाभी की गांड में घुस गया। भाभी जोर से चिल्लाने लगी कि निकालो इसे, मेरी गांड फट रही है। रीना ने कहा कि दीदी थोड़ी देर और फिर रीना ने पूरी क्रीम मेरे लंड पर लगा दी।

फिर मैंने लंड को वापस निकालकर ज़ोर से धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड भाभी की गांड में अन्दर चला गया। अब भाभी मेरे पैर को पकड़कर मुझे पीछे धकेल रही थी, क्योंकि उसको बहुत दर्द हो रहा था। फिर कुछ देर तक में शांत रहा तो भाभी का दर्द भी कुछ कम हुआ। फिर में धीरे-धीरे अन्दर बाहर करने लगा। अब भाभी को भी मज़ा आने लगा था। अब मैंने भी जोर से धक्के मारे तो अब भाभी को भी चुदवाने में और मज़ा आने लगा था। तभी भाभी ने कहा कि बस अब तुम रीना को चोदो। फिर रीना भाभी के सामने देखकर मुस्कुराई और अपनी चूत फैलाकर सो गयी। तभी भाभी ने मेरा लंड बाहर निकाल दिया।

loading...

फिर मैंने तुरंत ही रीना की चूत में अपना लंड डाल दिया और रीना अपनी आँखे बंद करके चुदाई का मज़ा लेने लगी। फिर कुछ देर में मैंने अपना सारा माल रीना की चूत में निकाल दिया और हम तीनों ने एक दूसरे के साथ खूब मजा किया ।।

धन्यवाद …

 

इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.